जब चांदनी चौक पहुंचे केएल सहगल

केएल सहगल, हिंदी सिनेमा के पहले सुपरस्टार। जिनकी जिंदगी भी किसी फिल्मी कहानी की भांति ही रोचक है। सहगल का जन्म जम्मू में हुआ। बाद में परिवार के साथ जालंधर रहने लगे। और एक दिन युवावस्था में बिना किसी को कुछ बताए घर से निकल पड़े। सफर बिल्कुल अंजान था। बस शहर दर शहर भटकते रहेे। नौकरियां करते रहे और जिंदगी गुजरती रही। कभी मुरादाबाद पहुंचे तो कभी लखनऊ, बरेली। उनके सफर का एक पड़ाव दिल्ली भी था। यहां भी उन्होंने एक से अधिक नौकरियां की। जिनके बारे में विस्तार से लिखेंगे। लेकिन आज जो एक किस्सा सुनाएंगे उसे सुनकर आप भी हंस पड़ेगे। किस्सा कुछ ऐसा है कि के एल सहगल को ज्योतिषियों से कुछ खास ही लगाव था। वो जिस भी शहर जाते थे, अपनी कुंडली ज्योतिषी को जरूर दिखाते। तो सहगल जब दिल्ली आए तो यहां भी एक दिन चांदनी चौक पहुंच गए। जानते हैं क्यों, एक ज्योतिषी को अपनी कुंडली दिखाने।

https://en.wikipedia.org/wiki/K._L._Saigal



ज्योतिषी भी कोई छोटा मोटा नहीं। उस समय के बहुत प्रसिद्ध ज्योतिषी थे। कहते हैं, एक बार चांदनी चौक के प्रसिद्ध ज्योतिषी विश्वनाथ राजगढ़िया के पास पहुंचे। उनके साथ उनका एक दोस्त भी था जो टाइपराइटर कंपनी में ही काम करता था। ज्योतिषी ने सहगल को बताया कि वो कंपनी के सबसे बड़े पोस्ट से रिटायर होंगे। लेकिन यहीं एक ट्विस्ट हुआ। दरअसल, हुआ यह कि ज्योतिषी को अपनी कुंडली दिखाने के कुछ दिन बाद सहगल ने कलकत्ता की तरफ रूख कर लिया। यहां तक तो ज्योतिषी की बात ठीक थी। क्यों कि तब सहगल जिस कंपनी में काम करते थे, उसका मुख्यालय उन दिनों कलकत्ता में ही था। लेकिन वहां पहुंचकर सहगल ने अपना करियर फिल्मों में बनाया और भारत के पहले सुपरस्टार बने। यहां यह भी बताना जरूरी है कि सहगल तो कंपनी में बड़े पोस्ट से रिटायर नहीं हुए लेकिन हां, उनके साथ ज्योतिषी के पास गया उनका दोस्त जरूर कंपनी में बड़े पद पर पहुंचा और रिटायर हुआ।

2 thought on “जब चांदनी चौक में ज्योतिषी को कुडंली दिखाने पहुंचे थे केएल सहगल”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *