ऋषि कपूर का दिल्ली से दिली रिश्ता था। यहीं उनका प्यार परवान चढ़ा था और रिश्ते की शक्ल अख्तियार किया। दरअसल, नीतू और ऋषि कपूर के बीच अफेयर काफी लंबे वक्त तक चला। लेकिन ऋषि शादी को तैयार नहीं हो रहे थे। यह बात उनकी बहन रितु नंदा को पता चली तो उन्होंने एक ऐसा तरीका निकाला जो किसी ने सोचा नहीं था।


ऋषि कपूर ने पत्नी नीतू संग कुल 14 फिल्में की। शुरूआती कुछ फिल्मों के बाद ही नीतू से प्यार हो गया था। करीब पांच साल तक दोनों का प्यार परवान चढ़ता रहा। उन्हें एक पारिवारिक शादी समारोेह में दिल्ली आना था। दिल्ली के एक होटल में ऋषि अपने परिवार के साथ किसी रिश्तेदार की सगाई में गए थे और नीतू अपनी मां के साथ उसी होटल में रुकी थीं। ऋषि की बहन रितु उनके और नीतू के प्यार के बारे में जानती थीं और उन्होंने पहले खुद जा कर नीतू की मां से शादी की बात की और फिर ऋषि के पिता राज कपूर ने जा कर नीतू की मां के साथ सब तय किया और बात पक्की हो गई। कहते हैं, ऋषि कपूर को नीतू को पहनाने के लिए कोई अंगूठी नहीं थी तो उन्होंने अपनी बहन की अंगूंठी पहना दी। जबकि नीतू को ऋषि कपूर की फिल्म झूठा कहीं का के डायरेक्टर ने अपनी अंगूठी दी थी। जिसे नीतू ने ऋषि कपूर को पहनाई।


रीगल सिनेमा बंद होने पर हो गए थे भावुक
31 मार्च 2017 को कनॉट प्लेस स्थित रीगल सिनेमा बंद हुआ। आखिरी दिन शो मैन राजकपूर की मेरा नाम जोकर और संगम दिखाई गई थी। इस फैसले पर एक्टर ऋषि कपूर ने ट्वीट किया था कि- रीगल थियेटर बंद हो रहा है। यह ऐसा स्थान है जो सभी कपूर्स का थियेटर है और इसमें उनका काम देखा गया। ‘बॉबी’ का प्रीमियर भी यहीं हुआ। हमने वर्षो साथ मिलकर काम किया है।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *